अधिशासी अभियंता के निर्देशन में चला अभियान उपभोक्ताओं में मचा हडकंप

रिपोर्ट
पंकज शाक्य
मैनपुरी संदेश महल समाचार

जनपद मैनपुरी के विधुत वितरण खंड तृतीय कुरावली कस्वा में अधिशासी अभियंता के कुशल निर्देशन में महाभियान चला गया। जिसमें कुरावली उपखंड के अधीनस्थ सभी अवर अभियंताओं को लगाया गया। जिससे विधुत उपभोक्ताओं में हडकंप की स्थिति बनी रही।बताते चलें कि पूरा मामला क़स्बा कुरावली का है। जहाँ पर कस्वे में विधुत विभाग के द्वारा महाभियान चलाया गया। जिसमें टीम में उपखंड कार्यालय कुरावली के अधीनस्थ सभी अवर अभियंताओं को लगाया गया। वही प्राप्त जानकारी के अनुसार सभी टीमें अपने अपने आवंटित क्षेत्र में सुबह आठ बजे निकल गयी। जिसमें सभी टीमों को उपखंड अधिकारी संजीव कुमार ने बताया निर्देश दिया है कि कोई भी उपभोक्ताओं के घरों की बत्ती गुल नहीं करेगा। सिर्फ उपभोक्ताओं के परिसर पर जाकर उनके मीटर में रीडिंग व मीटर का भार जांच कर कार्यालय को उपस्थित कराओगे। अगर टीम के भ्रमण के दौरान कोई उपभोक्ता विधुत चोरी करते पाया जाता है। तो उसके परिसर की वीडिओ बनाकर व उपभोक्ता का पूरा ब्योरा कार्यालय को दर्ज कराएगा। साथ ही जिन उपभोक्ताओं के बिल रुपये एक हज़ार से कम है तो उनका बिल मौके पर ही जमा कराएं। और जिन उपभोक्ताओं के बिल रुपये एक हज़ार से ज्यादा है वो उपभोक्ता बिजली घर पर बने कैश काउंटर पर जमा करवाने के लिए कहें। वही रूपये पांच हज़ार तक या उससे ज्यादा बकायेदारों को दोपहर दो बजे तक समय दिया गया है। अगर ये उपभोक्ता दो बजे तक अपना बिल जमा नहीं कराते है। तो उनके घरों की बत्ती गुल कर दी जायेगी। वही इस मौके पर अधिशासी अभियंता गुरु चरण लाल, उपखंड अधिकारी कुरावली संजीव कुमार समेत अवर अभियंता राजवीर सिंह, सतेन्द्र सिंह, मनोज कुमार, विेशम्भऱ सिंह, अखिलेश वर्मा टीजी टू की टीम में आर. पी. सिंह, महेश, विजेंद्र, सत्यभान सिंह, रामब्रेश, उदयपाल, कादिर अली वही मैनपुरी खंड कार्यालय से आये सहायक राजवीर सिंह चौहान, सुनील कुमार, शिवमंगल, संविदाकर्मी लाइनमैन कन्हैयालाल, यदुवीर, राजीव, आकाश, सुमित कुमार, सत्यवीर सिंह, विनोद कुमार, बीनेश कुमार, ब्रजराज सिंह समेत सभी कर्मचारी मौजूद रहे।

 

क्या कहते है अधिशासी अभियंता विधुत वितरण खंड तृतीय

इस सम्बन्ध में अधिशासी अभियंता विधुत वितरण खंड तृतीय गुरु चरण लाल से बात की गयी तो उन्होंने बताया है कि उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्य नाथ की मंशा है कि प्रदेश के सभी शहरी व ग्रामीण अंचलों में चौबीस घंटे विधुत आपूर्ति दी जा सके। इसके लिए आवश्यकता है कि जिन उपभोक्ताओं पर विधुत बिल बकाया है वो महीने दर महीने अपना बिल जमा करें। जिससे कि लाइनलोस पंद्रह प्रतिशत से कम आ सके।
उसके लिए ये जो अभियान चलाया गया है। वही अगर फिर भी कोई उपभोक्ता अपना बिल जमा नहीं करता है। तो उसके घर का विधुत संयोजन विच्छेदित कर दिया जाएगा। और विभाग उसके खिलाफ विभागीय कार्यवाही करेगा। साथ ही जो लोग बिजली की चोरी करते है। उन लोगों के लिए खुले शव्दों में अधिशासी अभियंता ने कहा है कि पहले तो ऐसे लोगों को चिन्हित किया जाएगा। उसके बाद उन्हें विधुत संयोजन लेने के लिए प्रेरित किया जाएगा। अगर ऐसे में विधुत चोरी करने वाले अपने घर का विधुत संयोजन ले लेते है। तो वो लोग बहुत ही अच्छा कार्य करेंगे और विधुत विभाग उनका तहेदिल से शुक्रिया करेगा। जो लोग विधुत चोरी करने से बाज नहीं आयेंगे। उनके खिलाफ विधुत विभाग विधुत चोरी अधिनियम के तहत चोरी की सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कराकर कार्यवाही करायेगा। जिसके लिए बिजली चोरी करने वाले खुद जिम्मेदार होंगे। इसमें विधुत विभाग की कोई जिम्मेदारी नहीं होगी।

error: Content is protected !!