मारपीट में घायल बीएसएफ के सब इंस्पेक्टर ने आगरा में तोड़ा दम

रिपोर्ट
पंकज शाक्य
कुरावली/मैनपुरी

10 दिन पूर्व अवकाश पर घर आए 55 वर्ष बीएसएफ का सब इंस्पेक्टर बारात में मारपीट के दौरान गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसकी आगरा में उपचार के दौरान मौत हो गई। सब इंस्पेक्टर की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया वही मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव का पोस्टमार्टम कराया।

क्षेत्र के ग्राम बलरामपुर निवासी रामलड़ेते पुत्र लोचन सिंह बीएसएफ में सब इंस्पेक्टर पद पर दिल्ली के नजबगढ़ इलाके में छावला कैंप में तैनात थे। बीते 18 नवंबर को सब इंस्पेक्टर 10 दिनों के अवकाश पर गांव में आया था। 25 नवंबर को गांव के ही राहुल पुत्र श्याम सिंह की बारात कुरावली क्षेत्र ग्राम नगला छडे मैं गई थी। बारात में शामिल सब इंस्पेक्टर का विवाद मामूली कहासुनी को लेकर गांव के ही लोगों से विवाद हो गया था। जिसमें शेषपाल, अवधपाल, सुबोध सिंह, दिनेश सिंह पुत्रगण चूड़ामणि निवासी ग्राम बलरामपुर तथा अजय पुत्र वीरेश निवासी ग्राम नगला दुबे थाना पिलुआ जनपद एटा दो अज्ञात लोगों ने मारपीट कर सब इंस्पेक्टर को गंभीर रूप से घायल कर दिया था। घटना की प्राथमिकी थाना में दर्ज कराई गई थी। घायल सब इंस्पेक्टर को 25 नवंबर को उपचार के लिए आगरा के प्रार्थना अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां पर उपचार के दौरान 27 नवंबर की रात्रि लगभग 11:00 बजे सब इंस्पेक्टर ने दम तोड़ दिया। सब इंस्पेक्टर की मौत की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बीएसएफ के सब इंस्पेक्टर की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया।

error: Content is protected !!