डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर नैमिषारण्य पहुंचे पूर्व उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा

सूर्य प्रकाश मिश्र/अनुज शुक्ल
सीतापुर (संदेश महल)। भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती के उपलक्ष्य में एक संगोष्ठी का आयोजन भारतीय जनता पार्टी सीतापुर द्वारा जनपद के नैमिषारण्य धाम में हनुमानगढ़ी स्थित खाटू श्याम मंदिर प्रांगण में आयोजित की गई। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में राज्यसभा सांसद व पूर्व उपमुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश शासन डॉ.दिनेश शर्मा उपस्थित रहे। सर्वप्रथम राज्यसभा सांसद डॉ. दिनेश शर्मा द्वारा भाजपा जिलाध्यक्ष राजेश शुक्ला के साथ मां ललिता देवी मंदिर पहुंचकर मां का पूजन अर्चन किया तत्पश्चात हनुमानगढ़ी जाकर प्रभु हनुमान का पूजन कर आयोजित संगोष्ठी में भागीदारी की गई। कार्यक्रम में सर्वप्रथम डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के चित्र पर दीप प्रज्वलित किया गया तत्पश्चात भारतीय जनता पार्टी के नेताओं एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा जिलाध्यक्ष राजेश शुक्ला के नेतृत्व में मुख्य अतिथि का भव्य स्वागत एवं सम्मान किया गया। डॉ.दिनेश शर्मा ने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर विस्तार से प्रकाश डाला और उनके राजनीतिक जीवन के विषय में उपस्थित जन समूह को बताते हुए कहा की डॉक्टर साहब की राजनीतिक अवधारणा को आज की नरेंद्र मोदी सरकार साकार कर रही है उन्होंने बताया कि डॉक्टर मुखर्जी ने धारा 370 और कश्मीर की परमिट प्रणाली का घोर विरोध किया था। उनके इसी सपने को पूरा करते हुए भारतीय जनता पार्टी के नेता नरेंद्र मोदी ने कश्मीर से धारा 370 एवं 35 ए हटाने का काम किया उन्होंने बताया कि डॉक्टर मुखर्जी एक देश में दो प्रधान दो निशान एवं दो विधान के सख्त विरोधी थे। भारतीय जनता पार्टी ने उनके विजन को साकार करते हुए कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बना दिया है। राज्यसभा सांसद डॉ. दिनेश शर्मा ने संसद में राहुल गांधी द्वारा हिंदुओं के विषय में हिंसक शब्द प्रयोग किए जाने की घोर आलोचना की उन्होंने उपस्थित जनसमूह से कहा कि कांग्रेस हिंदुओं की धुर विरोधी है किस तरह से कांग्रेस के नेता ने भरी संसद में हिंदुओं को हिंसक कहा है यह घोर निंदनीय है। डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि हिंदू चींटी का भी सम्मान करता है हिंदू पहाड़, नदी व प्राकृतिक स्थलों को देवता मानकर पूजता है हिंदू अपने देश को माता कहता है
हिंदू वसुधैव कुटुंबकम की बात करता है यहां तक की हिंदू नाग देवता की भी पूजा करता है उस हिंदू को हिंसक कहना महा पाप है डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी कांग्रेस की इसी नीति का सदैव विरोध करते थे और भारतीय जनता पार्टी भारत के बहुसंख्यक वर्ग की एकता के लिए निरंतर कार्य करती है। डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी अयोध्या और काशी की तर्ज पर नैमिष का विकास करने के लिए भी प्रतिबद्ध है और उन्होंने व्यक्तिगत रूप से भी कहा कि नैमिष के विकास की जो आवश्यकता होगी उसमे वह पूर्ण सहयोग करेंगे। डॉ दिनेश शर्मा ने संगोष्ठी के सफल आयोजन के लिए भाजपा जिलाध्यक्ष राजेश शुक्ला का आभार जताया। कार्यक्रम में बोलते हुए भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष राजेश शुक्ला ने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी द्वारा कश्मीर के लिए किए गए संघर्ष के विषय पर विस्तार से प्रकाश डाला एवं किस प्रकार से परमिट प्रणाली को समाप्त करने के लिए डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने अपना बलिदान दिया। जिलाध्यक्ष राजेश शुक्ला ने बताया कि आज युवाओं को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी से सीख लेने की आवश्यकता है और राजनीति में आने वाले युवाओं को डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी का दिया मार्ग सफलता का शिखर दिलाने वाला तत्व बन सकता है उन्होंने जयंती के अवसर पर डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर सेवता विधायक ज्ञान तिवारी, मिश्रिख विधायक रामकृष्ण भार्गव, सिधौली विधायक मनीष रावत ,बिसवां विधायक निर्मल वर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि शिवकुमार गुप्ता, भाजपा नेता मुनेंद्र अवस्थी,
ब्लॉक प्रमुख मिश्रित रामकिंकर पांडे , चेयरमैन प्रतिनिधि बबलू सिंह ,जिला उपाध्यक्ष सुधाकर शुक्ला नैमिष रत्न तिवारी ,उदित बाजपेई ,विश्राम सागर राठौर इंदू सिंह चौहान ,रोहित सिंह,कामेश शुक्ल, झरेखापुर मण्डल अध्यक्ष कौशलेंद्र सिंह, संजय जायसवाल, सहित भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता पदाधिकारी व समर्थक उपस्थित रहे।