संविधान निर्माता की तोड़ी गई मूर्ति को दोबारा स्थापित कराए जाने की गुहार

रिपोर्ट
पंकज शाक्य
मैनपुरी संदेश महल समाचार

जनपद मैनपुरी के थाना बरनाहल क्षेत्र का गांव है। जहां विगत कुछ दिन पूर्व संविधान के निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की मूर्ति को कुछ अराजक तत्वों द्वारा तोड दिया गया था। मूर्ति को टूटा देख दलित समाज में काफी आक्रोश था जिसकी शिकायत थाना थाना क्षेत्र को दी गई। वहीं इस पूरे मामले की जानकारी होने पर क्षेत्र अधिकारी करहल अशोक कुमार भी मौके पर पहुंचे थे। जहां पर दलित समाज को सीओ ने आश्वासन दिया था। बाबा साहब की मूर्ति को तोड़ने वालों का जल्द पता लगाकर सलाखों के पीछे भेजा जाएगा और दलित समाज से लिखित शिकायत भी थाना में देने के लिए कहा गया था। जिसको दलित समाज के लोगों ने थाना में लिखित शिकायत देकर कार्रवाई की मांग की थी।
बताते चलें कि पूरा मामला जनपद मैनपुरी के थाना बरनाहल क्षेत्र का है। जहां के गांव मडामई मैं 29 नवंबर की रात अराजक तत्वों द्वारा मूर्ति का दाहिना हाथ तोड़ दिया गया था। मूर्ति क्षतिग्रस्त होने की सूचना थाना बरनाहल पुलिस को दी गई थी। जहां पर थाना पुलिस समेत क्षेत्राधिकारी करहल भी मौके पर पहुंच गए। कई मौके पर पहुंचे क्षेत्राधिकारी समेत थाना पुलिस ने दलित समाज के लोगों को आश्वासन दिया था। कि मूर्ति को जल्द ही सही कराया जाएगा। लेकिन उप जिलाधिकारी करहल पर मूर्ति को हटवाए जाने का विरोध बढ़ गया है। जिलाधिकारी कार्यालय पर पहुंचे या सभी लोग भीम आर्मी के नेतृत्व में आज जिला अधिकारी महेंद्र बहादुर सिंह को एक शिकायती पत्र दिया गया। जिसमें बताया गया कि प्रशासन द्वारा द्वारा मूर्ति को स्थापित कराया जाए और जिन अराजक तत्वों के द्वारा मूर्ति को तोड़ा गया था। उनका जल्द पता लगा कर उनकी गिरफ्तारी की जाए। वहीं इस पूरे मामले में जिलाधिकारी के द्वारा 5 दिसंबर तक का समय दिया गया है। कि दिए गए समय तक मूर्ति को स्थापित करा दिया जाएगा। वही भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने अभी बताया कि अगर शासन के द्वारा 5 तारीख तक मोती और साधु नहीं कराया जाता है। तो 6 तारीख को उनकी ओर से मुक्ति की स्थापना की जाएगी।

เกมยิงปลา slot gacor เกมสล็อต slotonline ยิงปลา scatter hitam http://157.245.71.105/