ग्रामीण पत्रकारों की एकता और सुरक्षा के ध्वजवाहक थे बाबू बालेश्वर लाल -राकेश चतुर्वेदी

घनश्याम त्रिपाठी
संतकबीरनगर संदेश महल
पुरानी तहसील बाग में ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के संस्थापक बाबू बालेश्वर लाल जी की याद में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। नाथनगर ब्लॉक के पूर्व ब्लॉक प्रमुख एवं एसआर इंटरनेशनल एकेडमी के मैनेजिंग डायरेक्टर राकेश चतुर्वेदी ने जीपीए के बैनर तले आयोजित इस सभा को बतौर मुख्य अतिथि पहुंच कर संगठन के संस्थापक को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित किया। मुख्य अतिथि के रूप में पत्रकारों को संबोधित करते हुए पूर्व प्रमुख श्री चतुर्वेदी ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र की पत्रकारिता शुरुआती दौर से ही बेहद चुनौती पूर्ण मानी जाती है। सीमित संसाधनों और विपरीत भौगोलिक परिस्थितियों के बीच समाचार संकलन करना बेहद साहसिक काम माना जाता है। श्री चतुर्वेदी ने कहा कि ऐसे में पत्रकारों के बीच एकता स्थापित करते हुए स्व0 बाबू बालेश्वर लाल ने एक संगठन स्थापित करके उनकी सुरक्षा का खाका तैयार किया था। श्री चतुर्वेदी ने पत्रकारों का आह्वान करते हुए कहा कि अपनी निष्ठा और समर्पण के साथ पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए अपनी कलम की धार को हमेशा तेज रखकर ही स्व0 बालेश्वर लाल जी को सच्ची श्रद्धांजलि दी जा सकती है। सपा के वरिष्ठ नेता केडी यादव ने कहा कि तपती दोपहरी हो, मूसलाधार बारिश हो या फिर कड़ाके की ठंड हो ग्रामीण क्षेत्र का पत्रकार खुद के सुरक्षा की परवाह किए बिना पीड़ित समाज को न्याय दिलाने के लिए सदैव तत्पर रहता है। श्री यादव ने जीपीए के संस्थापक को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उन्हें पत्रकारों के संघर्ष और कर्तव्य निष्ठा का प्रेरणाश्रोत बताया। वरिष्ठ भाजपा नेता एवं धनघटा नगर पंचायत के चेयरमैन प्रतिनिधि नीलमणि ने कहा कि पत्रकार हमेशा से ही दबे कुचले और शोषित समाज की आवाज माना जाता रहा है। अपनी दृढ़ इच्छा शक्ति की बदौलत बाबू बालेश्वर लाल ने ग्रामीण क्षेत्र में पनप रहे अन्याय और अत्याचार के फन को कुचलने के लिए एक जीपीए के रूप में एक सशक्त फ़ौज स्थापित किया था। उन्होंने इस संगठन को हमेशा ताकत देने का संकल्प दुहराते हुए स्व0 बालेश्वर लाल को अपना श्रद्धा सुमन अर्पित किया। इससे पूर्व श्रद्धांजलि सभा में पहुंचने पर जीपीए के जिलाध्यक्ष सौरभ कुमार त्रिपाठी के नेतृत्व में पत्रकारों ने मुख्य अतिथि पूर्व ब्लॉक प्रमुख राकेश चतुर्वेदी का फूल मालाओं के साथ गर्म जोशी से स्वागत किया। श्री त्रिपाठी ने श्रद्धांजलि सभा में जीपीए के मूल सिद्धांतों का वर्णन किया। इस दौरान लीलावती हॉस्पिटल के एमडी बुद्धिसागर पांडेय, डाॅ मनोज शुक्ला, पं सूर्य नारायण चतुर्वेदी पीजी कॉलेज के प्राचार्य वेद प्रकाश पांडेय,घनश्याम त्रिपाठी अमित मिश्र, अश्वनी पांडेय,मनोज शुक्ल,विवेक सिंह, शिवराम चतुर्वेदी,काजी सरफराज अहमद, अविनाश जायसवाल,दिग्विजय यादव,अकील अहमद,विंध्यवासिनी आदि लोग मौजूद रहे।

เกมยิงปลา slot gacor เกมสล็อต slotonline ยิงปลา