शास्त्र संवत् 25 अक्टूबर रविवार को ही मनाएं विजय दशमी

सौजन्य से
वेदभूषण सन्देश जी
अयोध्याधाम उत्तर प्रदेश

प्रस्तुतकर्ता
संदेश महल समाचार

नवमी का हवन पूजन भी रविवार को ही होगा

शारदीय नवरात्रि में अष्टमी नवमी और दशमी को लेकर विद्वानों में मतांतर है,लेकिन हृषिकेश (काशी) पञ्चाङ्ग अनुसार सप्तमी शुक्रवार को 12 :08 मिनट तक रहेगी उसके बाद अष्टमी आरम्भ हो कर शनिवार को 11:14 तक रहेगी उसके पश्चात नवमी आरम्भ होकर रविवार को 11:14 तक रहेगी तत्पश्चात् दशमी अपराह्न काल में ही आरम्भ हो जायेगी उदयातिथी ( सूर्यग्राह्य )होने के कारण नवमी को होने वाला पूजन हवन इत्यादि रविवार को ही करना चाहिये व नौ दिवस का उपवास (व्रत) रखने वालों के लिये पारण सोमवार को शास्त्र सम्मत रहेगा।

scobet999 bewin999 scobet999 เกมยิงปลา slot gacor เกมสล็อต slotonline https://www.prevestdenpro.com/wp-content/product/ ยิงปลา bewin999 scatter hitam http://157.245.71.105/ https://bewin999-nolimit.tumblr.com/ https://bewin999-nolimit.tumblr.com/ https://bewin999-nolimit.tumblr.com/ https://bewin999-scatterhitam.tumblr.com/ slot gacor pgslot