तू फांसी लगा ले वर्ना जहर देकर मार दूंगी सास प्रतारणा से बेवस सोनी खेल गयी मौत से

रिपोर्ट
हिमांशु यादव
मैनपुरी संदेश महल समाचार

20 अप्रैल सन् 2018 को सोनी दुल्हन बनकर जब ससुराल पहुंची तो उसने मन में अनगिनत सपनों का संसार था। सपनों को पंख लग भी नहीं पाए कि सास,ससुर,पति की प्रतारणा का अध्याय शुरू हो गया।हद तो तब हो गई जब सोनी को दहेज के लिए उसे घर से ही निकाल दिया गया। जब सहनशीलता की हद टूटी तब सोनी ने मायके में पंखे से लटक कर जीवन लीला समाप्त कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु भेजा है।

बताते चलें कि उत्तर प्रदेश के जिला मैनपुरी के थाना क्षेत्र भोगांव अंतर्गत ग्राम पुरनपुर निवासी ओंमकार सिंह उर्फ पप्पू ने अपनी पुत्री सोनी की शादी 20 अप्रैल 2018 को ग्राम खटकपुर नगला (काशी) में अतुल पुत्र बृजेश के साथ की थी। दहेज दिया था। किंतु कुछ समय बीतने के बाद ससुरालीजनों ने दहेज की मांग शुरू कर दी। सोनी ने अपने पिता को बताया। सोनी को दहेज मांग को लेकर उत्पीड़न करने लगे। जिससे ओमंकार उर्फ पप्पू अपनी पुत्री को घर ले आए कुछ दिनों रहने के बाद ससुरालीजन सोनी को अपने घर ले गए रास्ते में सोनी से 1 जोड़ी झुमके दो अंगूठी पर्स में रखे हुए थे जो रास्ते में गिर गए ससुरालीजन ने सोनी के ऊपर किसी को झुमके और अंगूठी देने का आरोप लगाया गया। जिसकी वजह से सोने को काफी प्रताड़ित करते थे सोनी के परिवारीजनों का कहना है की सोनी की सास विमला देवी सोनी को भद्दी भद्दी गालियां देकर कई बार घर से निकाला भी गया है। सास का कहना है तू मर जा और फांसी लगा ले वरना अगर तू दोबारा घर आई तो जहर खिलाकर तुझको मार दूंगी। और अपने पुत्र की दूसरी शादी कर लूंगी।तेरे मायके वाले हमारा क्या कर लेंगे यह सब सुनकर जब सोनी बर्दाश्त नहीं कर पा रही थी।सारा माजरा पिता को बताया तो पिता ओंमकार उर्फ पप्पू ने अपनी पुत्री को अपने घर ले आए लगभग 1 सप्ताह मायके मे रहने के बाद पंखे में साड़ी डालकर आत्महत्या कर ली। आवाज की चीख सुनकर जब घर वाले पहुंचे तो अंदर से दरवाजा बंद था। दरवाजा तोड़कर जब देखा तो सोनी पंखे में साड़ी के फंदे में लटकी हुई थी। परिवारंजनो ने शव को ऊतारा तो मौके पर सोनी की मौत हो चुकी थी।जिसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु भेजा है।

error: Content is protected !!