कोषदा ज्वैलर्स के स्वामी की हत्या करने आये बदमाशों को पुलिस ने धर दबोचा

रिपोर्ट
प्रताप सिंह
मथुरा संदेश महल समाचार

कोषदा ज्वैलर्स से चौथ मांगने के मामले में पुलिस ने दो और शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में पुलिस अब तक वकील सहित सात लोगों को जेल भेज चुकी है। पुलिस की इस सख्त कार्यवाही से शहर के व्यापारी वर्ग में कानून व्यवस्था के प्रति विश्वास जागा है। भरतपुर के सेवर जेल में बंद शातिर बदमाश पंकज शर्मा लम्बे समय से जेल के अंदर ही रहकर चौथ वसूली का धंधा चलाये हुए है। मथुरा में मौजूद उसके गिरोह के लोग आम लोगों की फोन द्वारा पंकज से हडकवाकर चौथ वसूली करते थे। करीब एक पखबाडा पूर्व शहर के नामचीन ज्वैलर्स कोषदा से पंकज के लोगों ने 10 लाख रूपये की चौथ मांगी जिसकी सूचना दुकान स्वामी ने एसएसपी को दी।
एसएसपी ने तत्काल इस मामले में सीओ सिटी के नेतृत्व में टीम लगाकर बदमाशों को पकडने के लिए जाल बिछा दिया। जिसमें सबसे पहले पंकज का भाई वकील और एक अन्य युवक जिसके सिम से चौथ वसूली की रकम मांगी गयी थी उसको गिरफ्तार कर लिया। उसके कुछ दिन बाद ही पुलिस ने दो बदमाश राजेन्द्र उर्फ रज्जो निवासी कीकी का नगला वृन्दावन व मनोज नि. फरह को क्वालिटी तिराहे से गिरफ्तार किया था। मामले में जांच के दौरान प्रकाश में आये दो और बदमाश आज पुलिस के उस समय में हत्थे चढ गये जब वह ज्वैलर्स को पुनः धमकी देने के लिए भरतपुर से सतोहा क्षेत्र में आये थे। पुलिस ने फोन कॉल ट्रेश कर मुठभेड के बाद दोनो बदमाशों को पकड लिया। पकडे गये बदमाशों के नाम क्रमशः अमर सिंह, जसवीर है। इनके पास से लूटी गई एक वाइक तमंचा कारतूस बरामद किया है।
एसपी सिटी उदय प्रताप सिंह ने पुलिस लाइन में पत्रकारों को बताया कि बुधवार आज तड़के करीब 3:00 बजे सतोहा बैरियर के पास हाईवे पुलिस ने घेराबंदी कर अमर सिंह और जसवीर को पकड़ लिया। इस दौरान इन्होंने पुलिस पर फायरिंग भी की। बताया जाता है। चौथ ना मिलने से बौखलाए पंकज शर्मा ने इन दोनों बदमाशों को मथुरा भेजा था ताकि यह कोषदा ज्वेलर्स के स्वामी की हत्या कर सकें। भरतपुर प्रशासन ने पिछले दिनों मथुरा पुलिस से मिली सूचना के आधार पर जेल में बंद पंकज शर्मा के पास से तलाशी में कई फोन और सिम कार्ड बरामद किए थे। मोबाइल फोन ना होने से परेशान पंकज ने इन दोनों बदमाशों को कोषदा ज्वेलर्स के स्वामी को दुरुस्त करने के लिए मथुरा भेजा था। बताया जाता है। कि आज पकड़े गए दोनों बदमाशों में से अमर सिंह बहुत ही शातिर किस्म का अपराधी है। उस पर भरतपुर जिले में कई मुकदमे दर्ज है। हत्या के एक मामले में वह कई साल जेल भी रहा है।

เกมยิงปลา slot gacor เกมสล็อต slotonline ยิงปลา