पुलिस मुठभेड़ में व्यापारी सहित तीन लोगों की हत्या करने बदमाशों में दो को लगी गोली

रिपोर्ट
प्रताप सिंह
मथुरा संदेश महल समाचार

राया के एक व्यापारी और शेरगढ़, फरीदाबाद के युवक की हत्या करने वाले शातिर बदमाशों को पुलिस ने बुधवार तड़के मुठभेड़ के दौरान गोली मार दी है। मुठभेड़ में पुलिस ने तीन बदमाश गिरफ्तार किए है। इनके कब्जे से घटना में प्रयुक्त किए जाने वाला एक ऑटो और अवैध हथियार बरामद हुए हैं।
आज सुबह 4:00 बजे के लगभग सीओ सदर को सूचना मिली कि कुछ बदमाश एक ऑटो में बैठकर किसी वारदात करने की फिराक में है। वृंदावन, जमुना पार पुलिस के साथ-साथ स्वाट टीम, सर्विलांस टीम ने इन बदमाशों को मावली गांव के समीप घेराबंदी कर आत्मसमर्पण के लिए ललकारा लेकिन बदमाशों ने पुलिस की बात नकारते हुए फायरिंग शुरू कर दी पुलिस ने भी जवाब में गोलियां चलाई जिससे दो बदमाश गोली लगने से घायल हो गए तीन बदमाश पुलिस ने अपनी गिरफ्त में ले लिए । एक बदमाश अंधेरे का लाभ उठाकर भाग जाने में सफल रहा।
इस संबंध में एसपी सिटी उदय प्रताप सिंह का कहना है। कि इन बदमाशों ने फरवरी माह से अब तक मथुरा जनपद में 3 लोगों की हत्या की है। तथा कई लूट की घटना को अंजाम दिया है। सूत्रों के अनुसार घायल बदमाशों के नाम धर्मेंद्र और सचिन हैं। तीसरा पकड़ा गया बदमाश शिवम् है। यह सभी जमुनापार क्षेत्र के ही निवासी हैं। जबकि इनके फरार साथी का नाम राहुल है जो सदर थाना क्षेत्र का रहने वाला है। यह गिरोह सीरियल किलर गैंग की भांति घटना को अंजाम देता है। ऑटो में सवारी बन कर लूट और हत्या करना इनका पैशा है ।
सीओ सदर रमेश चंद्र तिवारी के अनुसार राया के व्यापारी दिलीप अग्रवाल डब्बू की हत्या के साथ साथ शेरगढ़ के निवासी विक्रम जो गाजियाबाद पासपोर्ट बनवाने गया था उसकी हत्या की है वही फरीदाबाद के एक श्रद्धालु की भी इन्होंने हत्या की है जो गोवर्धन परिक्रमा देने आया था उसका शव रिफाइनरी क्षेत्र में मिला था। उपरोक्त बदमाशों द्वारा दिनांक 15 नव को राया के व्यापारी दिलीप अग्रवाल की हत्या कर शव को गोसना गांव के पास थाना यमुनापार क्षेत्र अंतर्गत फेंक दिया था तथा विक्रम निवासी सेही थाना शेरगढ़ की 9 नव को हत्या कर शव यमुना नदी में फेंक दिया था जिसका शव 15 नव को बंगाली घाट पर बरामद हुआ। दोनों हत्या लूट के इरादे से सवारी बनाकर टेम्पो में बैठाकर की गई थी।

เกมยิงปลา slot gacor เกมสล็อต slotonline ยิงปลา