फर्जी मुठभेड़ मामले में ग्रामीणों का ऐलान न्याय न मिलने तक जारी रहेगा धरना प्रदर्शन

रिपोर्ट
उमेश बंसल
लखीमपुर-खीरी संदेश महल समाचार

तीन साल की मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में आरोपी के पक्ष में आए परिजनों और ग्रामीणों को धरना प्रदर्शन रविवार को भी जारी रहा।परिजनो का पुलिस पर आरोप है कि पुलिस ने घटना का गलत खुलासा कर आरोपी को फर्जी मुठभेड़ में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इस तरह से पुलिस की मनमानी के मामले की जांच कराने के साथ ही एसओ के निलंबन की मांग की है। धरना प्रदर्शन को लेकर गांव में फोर्स तैनात कर दिया गया है। प्रदर्शनकारियों ने हलका दरोगा पर धमकाने का आरोप भी लगाया है।
थाना क्षेत्र के एक गांव में चार सिंतबर को तीन साल की मासूम बच्ची का शव खेत से बरामद हुआ था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या की पुष्टि हुई थी। इस मामले में बच्ची के परिजनों ने गांव के लेखराम गौतम को नामजद किया था। आरोपी के भाई सतनाम ने बताया कि उसके भाई को रंजिशन गलत फंसाया गया है। कहा कि छह साल पहले उसकी भाभी की हत्या में बच्ची के ताऊ नामजद थे,उनकी सितंबर माह में सजा होने वाली है। बच्ची को लेकर उसके भाई लेखराज को जब आरोप की जानकारी हुई तो वह अपनी बेगुनाही का सबूत देने के लिए थाने पर गया, लेकिन उसे पकड़ लिया गया। आरोप है कि लेखराम को लेकर निघासन कोतवाली लाया गया था। उसके बाद बम्हनपुर के पास मुठभेड़ दिखाकर उसके पैर में गोली मारी दी गई। नाराज ग्रामीणों ने कहा कि यह धरना उस समय तक जारी रहेगा, जब तक उनको न्याय नहीं मिल जाता। प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि हलका दरोगा ने जिस व्यक्ति के दरवाजे पर धरना प्रदर्शन हो रहा था। उसको जमकर फटकार लगाई और धरना प्रदर्शन खत्म कराने के लिए उससे सख्त हिदायत दी है।

เกมยิงปลา slot gacor เกมสล็อต slotonline ยิงปลา