बाराबंकी में सोलह वर्षीय किशोरी बनी मां प्रेमी ने बच्चे को अपनाने से किया इंकार

रिपोर्ट
राजेश प्रताप सिंह
बाराबंकी संदेश महल समाचार

सोलह वर्षीय गर्भवती हुई किशोरी ने एक बच्चे को जन्म दिया है।प्रेमी,बच्चे व किशोरी को अपनाने के लिए तैयार नहीं है। इस पर किशोरी की मां ने पुत्री व उसके नवजात शिशु को लेकर न्याय की गुहार लगाई है।
गौरतलब हो कि मामला उत्तर प्रदेश के जिला बाराबंकी के थाना रामनगर क्षेत्र के एक गांव का है। यह गांव सुप्रसिद्ध भगहर झील के उस पार बसा है। बताया जा रहा है कि इस 16 वर्षीय किशोरी को बुधवार भोर पेट में अचानक तेज दर्द होने लगा। किशोरी की मां उसे लेकर स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सूरतगंज को पैदल ही लेकर घर से चल दिया।लगभग घर से करीब पांच किमी. की दूरी तय करते समय किशोरी ने रास्ते में ही बच्चे को जन्म दे दिया। किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा एंबुलेंस को दी गई सूचना पर पहुंची एंबुलेंस ने प्रसूता को लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सूरतगंज में भर्ती कराया। डॉ. गौरव पांडेय व स्टाफ नर्स दीपसिखा ने बच्चे का स्वास्थ्य परीक्षण किया। समय से पहले बच्चे का जन्म होने से उसका वजन करीब एक किलो सात सौ ग्राम है। जच्चा बच्चा दोनों स्वस्थ है।
किशोरी की मां का आरोप है कि गांव के ही एक युवक के साथ उसकी बेटी प्रेम करती थी। शादी की बात कहकर उसने शारीरिक संबंध बनाया था। मां ने बताया कि उसका पति दिल्ली में मजदूरी करता है। प्रेमी भी बाहर रहता है। प्रेमी के घर वाले किशोरी व उसके पुत्र को अपनाने से इंकार कर रहे हैं। किशोरी की मां ने मामले की सूचना पुलिस चौकी महादेवा व थानाध्यक्ष रामनगर को फोन से देकर न्याय की गुहार लगाई है।थानाध्यक्ष रामनगर रामचंदर सरोज ने बताया कि तहरीर मिलने पर किशोरी को न्याय दिलाया जाएगा।

เกมยิงปลา slot gacor เกมสล็อต slotonline ยิงปลา