असम से लापता युवती वृंदावन में मिली

रिपोर्ट
प्रताप सिंह
मथुरा संदेश महल समाचार

लॉकडाउन में घर से लापता हुई युवती के सकुशल मिल जाने से परिवारीजनों के चेहरे खुशी से खिल उठे। वृंदावन कोतवाली की जैत चौकी क्षेत्रान्तर्गत छटीकरा राधाकुंड रोड़ स्थित श्री राधिका अपना घर आश्रम पहुचें परिवारीजनों ने बताया कि 24 वर्षीय पिंकी पुत्री सुरेंद्र रॉय निवासी गांव गेंदर ,जिला चिरांग असम 10 जून के समय घर से अचानक निकल आई थी। जिसकी उन्होंने काफी खोजबीन की लेकिन कोई सुराग नहीं लग सका। इस सम्बंध में असम में उन्होंने पिंकी की गुमशुदगी भी दर्ज कराई थी। परिवारीजनों ने बताया कि पिंकी मानसिक रूप से कमजोर है। पिंकी 7-8 वर्ष की थी तभी से उसका मानसिक संतुलन बिगड़ गया। वह पहले भी घर से दो बार निकल चुकी है। राधिका अपना घर आश्रम के संचालक मुकेश कुमार शर्मा ने बताया कि पिंकी को उनके आश्रम पर पुलिस ने 26 जून को पहुँचाया था। पिंकी के बताएं गए पते पर संचालक मुकेश शर्मा ने मथुरा पुलिस के सहयोग से उसी दिन असम पुलिस से संपर्क किया और परिवारीजनों को पिंकी के आश्रम में मौजूद होने की जानकारी दी गई थी लेकिन लॉकडाउन के समय बस और ट्रेन की सुविधा न होने की वजह से परिवारीजन मथुरा नहीं आ सके। कनक धारा फाउंडेशन की अध्यक्षा डॉ लक्ष्मी गौतम ने बताया कि वृंदावन की जैत चौकी क्षेत्र में 26 जून को एक युवती लावारिस अवस्था में घूमती हुई मिली थी। किशोरी को पुलिस के सहयोग से श्री राधिका अपना घर आश्रम में भेजा गया था। आज किशोरी की मां, उसका फुफेरा भाई और भाभी उसे लेने के लिए आश्रम पहुचें हैं। किशोरी को जैत चौकी प्रभारी अरविंद सिंह की मौजूदगी में सकुशल उनके सुपुर्द किया गया है।

เกมยิงปลา slot gacor เกมสล็อต slotonline ยิงปลา