दहेज की मांग को लेकर दूल्हा नहीं लाया बारात,हाथ में मेहंदी रचाई बैठी रही युवती

रिपोर्ट
पंकज शाक्य
मैनपुरी संदेश महल समाचार

अतिरिक्त दहेज में ₹600000 की मांग को लेकर दूल्हा बारात लेकर नहीं आया और दुल्हन मंडप में सजी रह गई। परेशान परिजनों ने थाना में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की।
मामला कुरावली क्षेत्र ग्राम सिरसा का है। गांव के निवासी अमर सिंह पुत्र लालजीत मैं अपनी पुत्री बीनू का विवाह जनपद एटा के थाना मलावन क्षेत्र के ग्राम छछेना निवासी विमल पुत्र रामसेवक के साथ तय किया था। लड़के पक्ष द्वारा बीते 16 अक्टूबर को ग्राम सिरसा पहुंचकर युवती की गोद भराई की रस्म पूरी की गई। तत्पश्चात लड़की पक्ष द्वारा सोने की चैन,अंगूठी, स्प्लेंडर बाइक तथा ₹200000 नगद लड़के पक्ष को दिए गए। जिसके बाद 10 दिसंबर को शादी की तिथि निर्धारित की गई। लड़की पक्ष द्वारा सारी व्यवस्थाएं कर ली गई वही हाथों में मेहंदी रचाये दुल्हन बनी बैठी युवती सहित परिजन बारात आने का इंतजार करते रहे। देर रात बारात नहीं आई तो लड़की पक्ष के लोगों ने बात की तो लड़के पक्ष के लोगों द्वारा अतिरिक्त दहेज में ₹600000 की मांग की गई। लड़की पक्ष द्वारा असमर्थता जाहिर की गई तो लड़के पक्ष के लोगों ने बारात लाने से मना कर दिया।
परेशान लड़की पक्ष के लोगों ने कोतवाली पहुंचकर तहरीर देकर कार्रवाई किए जाने की मांग की।

เกมยิงปลา slot gacor เกมสล็อต slotonline ยิงปลา